SHER LYRICS – Diljit Dosanjh | Honsla Rakh – Lyricsmintss » LyricsMINTSS

हो आज करवा लो जेहदे फैसल करूने आने

हुने ही बुला लो जेहदे रूसे होए मनौने आने

हो आज करवा लो जेहदे फैसल करूने आने

हुने ही बुला लो जेहदे रूसे होए मनौने आने

कोई बंदा बूंदा कुट्टना तान आज दास दो

कोई कोठे बढ़ते सुतना तान आज दास दो

हो जाने ही कारा लो पूरी बाद छ ना कहो

खाती पीट छ जे मारी कोई सेखी जागी

हो आज मुंडा शेर घुट्ट पिकी आ दिलेर

कल दा पता नी वीरे वेखी जागी

हां आज मुंडा शेर घुट्ट पी आ दिलेर

कल दा पता नी वीरे वेखी जागी

ओए कल दा पता नी वीरे वेखी जाउगी

हो लोर विच रहना कोई कसार नी छडनी

मित्रों ने सारी रात राजे बन कडनी

हो लोर विच रहना कोई कसार नी छडनी

मित्रों ने सारी रात राजे बन कड़नी

रहने चलते ने पेग नहीं थप्प करना

बॉटलआन डे बॉटम ने अप करना

कांडा नाल वज्जे कांच देख के

धोही बापू कलों तड़के नू सेकी जाउगी

हो आज मुंडा शेर घुट्ट पिकी आ दिलेर

कल दा पता नी वीरे वेखी जागी

हां आज मुंडा शेर घुट्ट पी आ दिलेर

कल दा पता नी वीरे वेखी जागी

हो कल दा पता नी कल दा पता नि:

कल दा पता नी वीरे देखी जाउगी ओये

हो जिंदगी हसीन आ नि मिल्नी दुबारे

हो प्रकृतिआन दे फक्करन जेही लेने आ नजरे

कोई हस के बुलावे ओहदे हो जायदा

कोई टिन पंज करे फिर धो देहिदा

हो करो मन अइयां मारो फ़िक्रान नु गोली

नई तन लंघ ऐ जवानी बाहली छेती जागी

हो आज मुंडा शेर घुट्ट पिकी आ दिलेर

कल दा पता नी वीरे वेखी जागी

हां आज मुंडा शेर घुट्ट पी आ दिलेर

कल दा पता नी वीरे वेखी जागी

हो कल दा पता नी कल दा पता नि:

कल दा पता नी वीरे देखी जागी

Leave a Comment