OG LYRICS – KR$NA | Lyricsmintss – Lyricsmintss » LyricsMINTSS

Kr$na . के OG के बोल मंडलाज़ द्वारा दिए गए संगीत के साथ नया लॉन्च किया गया हिंदी रैप गीत है। ओग गाने के बोल Kr$na द्वारा लिखे गए हैं और संगीत वीडियो कैनफ्यूज द्वारा निर्देशित है।

ओजी गीत

ये हैं एक OG . के शब्द
इन सर्द गलियों में रेहाना असली
ये हैं एक OG . के शब्द
पैसे का क्या फ़ायदा जब आप अकेले मर जाते हैं

ये हैं एक OG . के शब्द
अपने खास रखो
ये हैं एक OG . के शब्द
हार मत मानना ​​चाहे हो जाए जो भी

सच बोलूं तो मैं इस रैप से थक गया हूं
गाना लिखना फिर सोचूं ना मुझे इसे स्क्रैप करने दो
संदेह आता है अपने ही कौशल पे
पर राखा हूं दिल में
क्यूंकी मिलते नहीं जवाब
कभी कभी लगे कि मैं जल रहा हूं
लेकिन मैं चलता रहता हूँ
‘क्योंकि मैंने अब कमाई शुरू कर दी है और

ठंडा है दीमाग ठंडा मेरा दिल
कम से कम अगर मैं जाता हूं तो वे जानते हैं कि मैं असली था
इतने सारे लोगों की अपेक्षा है मुझे पे
बोझ जैसे क्यों लगाना लगा मेरे कंधों पे
पहले ऐसा समय आना भी एक सपना था
आज सोच ये समय क्यों देखा मैंने सपनों में

ठक गया हूं मैं ये साबित कर कर के
दैट आई f^^ किंग रैप माइल व्यूज मार मार के
ये इंडस्ट्री है फर्जी साथी बने पल भर के
पर हाथी जैसे याद राखी मैंने सबकी कसमें

मैं ईमानदार रहूंगा मैं बस इतना बीमार हूँ
कभी-कभी काश मैं 06 . में प्रॉजपेक्ट होता
जब सपने द दोस्त मेरे अपने थे
आँखों में थी चमकी
अब अवसाद एक द्वि^^h . है
होती उनसे बात 6 माहीने में एक बार
टाइम निकला जैसा लाइफ है एक रेस कार

ज़िंदा रखो ख़्वाब अपने पल का मज़ा लें
और खास लोगों को खास रख पास अपने

ये हैं एक OG . के शब्द
इन सर्द गलियों में रेहाना असली
ये हैं एक OG . के शब्द
पैसे का क्या फ़ायदा जब आप अकेले मर जाते हैं

ये हैं एक OG . के शब्द
अपने खास रखो
ये हैं एक OG . के शब्द
हार मत मानना ​​चाहे हो जाए जो भी

क्या काला को दिया है मैंने बहुत कुछ
शायद देने को बच्चा नहीं है और कुछ
शायद और लिख से नज़र आएगा और दुखी
मुझे खुद से डर लगता है
मैं अंत में और अधिक हिलाकर रखूंगा
देखिए मैं आपको अभी बता रहा हूं
पहले करो उठो तो वे तुम्हें फाड़ रहे हैं
आप सबसे अच्छे हुआ करते थे

बताओ अब तुम कहाँ हो?
आगर गाना न बनानां
क्या मैं तुम्हें निराश करूंगा?
मुझे बताओ?

ये पल नहीं जाने वाला
शायद आज है पर काक नहीं आने वाला
पहले इच्छा थी मिले कोई जाने वाले
आज सोच पहचान न ले ये सामने वाला
फिर भी लिखने से मिलता है सुख और
इसी सुख ने निकले मैंने कुछ दौर
मैं से छोड वि न पौन अगर छोडना वि चाहुं
सिवाय रैप के तो अब मुझे आता वि न कुछ और

ये ना खेल नहीं ईएसपीएन
जीवन वह है जिसे आप इसे शब्द बनाते हैं spm
हरना न साधा से मानता हार नहीं:
सोचन इनति दूर आया रुकना भी ठीक नहीं:
आपका धन्यवाद सफर पे दिया साथो है
आगर किया भुगतना तो मेरे दिल से खेद है

ज़िंदा रखो ख़्वाब अपने पल का मज़ा लें
और खास लोगों को खास रख पास अपने

ये हैं एक OG . के शब्द
इन सर्द गलियों में रेहाना असली
ये हैं एक OG . के शब्द
पैसे का क्या फ़ायदा जब आप अकेले मर जाते हैं

ये हैं एक OG . के शब्द
अपने खास रखो
ये हैं एक OG . के शब्द
हार मत मानना ​​चाहे हो जाए जो भी

ये हैं एक OG . के शब्द
इन सर्द गलियों में रेहाना असली
ये हैं एक OG . के शब्द
पैसे का क्या फ़ायदा जब आप अकेले मर जाते हैं

ये हैं एक OG . के शब्द
अपने खास रखो
ये हैं एक OG . के शब्द
हार मत मानना ​​चाहे हो जाए जो भी

Leave a Comment