KANDH LYRICS – Vicky Dhaliwal – Lyricsmintss » LyricsMINTSS

हो कोई सानु घंट कोई गलत आखड़ा

कोई शानू ऊपर कोई नीचे आखदा

हो कोई सानु घंट कोई गलत आखड़ा

कोई शानू ऊपर कोई नीचे आखदा

जादोन दा जवानी छ कदम राखिया

देख बम जेहे बाला के जट्टिये

हो जेहदे सद्दे मुहरे जोड़े सी कांध बनके

देख कांध नाल लाते जट्टिये

हो जेहदे सद्दे मुहरे जोड़े सी कांध बनके

देख कांध नाल लाते जट्टिये

ब्रावो संगीत!

हो चढ़ड़े तो चड्ढा नी तोडिय़ा रिकॉर्ड

पर करिये न मान पतलो

हो वैल्पुनेय दे ओहो होंगे नी किंग

पर अस्सी सुल्तान पतलो

हो एरिया छ बहार जादोन शेर हुंडे ने

गिद्दाद वि ओहदों नी दिलेर हुंडे ने

हो आखदे सी चिरान तो जो जाट देखनी

देख पहेलियां जट्टं दे जट्टिये

हो जेहदे सद्दे मुहरे जोड़े सी कांध बनके

देख कांध नाल लाते जट्टिये

हो जेहदे सद्दे मुहरे जोड़े सी कांध बनके

देख कांध नाल लाते जट्टिये

यार हैं भावें माननीय नोट जट्टिये

पाई लोद जठे काड़े नी छोडे

हो होरां नाल जुड़ें घाट गोरिये

पर जुदे जिन्न हक दे जुदे

हो लीदेयां नु वेख बंदे जच नी करे

गबरू स्टैंड बिल्लो आंख चों पारे

हो करदे ने मान आंख छन्न चाड के

ऐथे कन्ने ही जत्ते जट्टिये

हो जेहदे सद्दे मुहरे जोड़े सी कांध बनके

देख कांध नाल लाते जट्टिये

हो जेहदे सद्दे मुहरे जोड़े सी कांध बनके

देख कांध नाल लाते जट्टिये

Leave a Comment