JUNOON LYRICS – Karan Sehmbi – Lyricsmintss » LyricsMINTSS

कुछ लोग जन्नती होते हैं

कैयों को जहन्नुम में भी जग नहीं मिल्ति

कुछ लोग मार्के भी जीना चाहते हैं

कैयों को जीते जी जीने की वजह नहीं मिल्ति

कोई तनु प्यार ऐथे किन्ना ही दे दुगा

मेरे वंगु अपनी कोई जान ता नहीं दे दुगा

एह जो लोकी इश्क दे विच कुर्बान हो जाने ने

आईना नु पागलन तो वध कोई नाम तन नी दे दुगा

तेरे आंस टन पहलवान जे में होवंगा मारेया

तू शहर मेरे दे आके शमशान मिलि मैनु

मेरे दिल विच तेरे लेई जो है जुनून भरे

तू ओस्से जूनून दे नाल मिली मैनु

तैनू देख के जो दिल मेरे नू है सुखों मिलना

तू ओस्से सुखों दे नाल मिली मैनु

तैणु मिलन लेई मैं आईना मैं आया के पागल ऐ

तेरे ते मेरे मिलन दे विच मौत जिन्ना ऐ फसल

दुनिया ने शानू जीने नी दत्ता जीने नी दित दोहन नु

अल्लाह जे अपने कोल बुलावे कोल बुलावे दोहन नु

तेरे लेई ओस्से जगह इंतज़ार करंगां मैं

जीते सी तू आके पहली वर मिली मैनु

मेरे दिल विच तेरे लेई जो है जुनून भरे

तू ओस्से जूनून दे नाल मिली मैनु

तैनू देख के जो दिल मेरे नू है सुखों मिलना

तू ओस्से सुखों दे नाल मिली मैनु

छन्न वि रोया आज रोये ने तारे

आसमान टन हंजुआन दी बरसात होई

खुदा मिले मैनु मिल्दे ने सारे

न तेरे नाल मुलकत होई

तेरी नज़र दे अगे जद दम तोडंगां मैं

चेहरे मेरे दी बांके मुस्कान मिली मैनु

मेरे दिल विच तेरे लेई जो है जुनून भरे

तू ओस्से जूनून दे नाल मिली मैनु

तैनू देख के जो दिल मेरे नू है सुखों मिलना

तू ओस्से सुखों दे नाल मिली मैनु

Leave a Comment